रेटिंग और रैंकिंग

ए.एम. बेस्ट द्वारा भारतीय साधारण बीमा निगम (जीआइसी री) के दर निर्धारण (रेटिंग) की पुष्टि. (28 फरवरी, 2018)

  • ए.एम. बेस्ट ने भारतीय साधारण बीमा निगम (जीआइसी री) (भारत) को वित्तीय शक्ति रेटिंग के लिए ए-(उत्कृष्ट) तथा दीर्घ अवधि क्रेडिट रेटिंग जारीकर्ता के लिए क्रेडिट रेटिंग "ए-" की पुष्टि की. दोनों ही दरनिर्धारणों (रेटिंग्स) के लिए उनका परिप्रेष्य स्थिर है.
  • यह दर निर्धारण, जीआइसी री के तुलन पत्र की स्थिति, जिसे ए.एम. बेस्ट द्वारा बहुत मज़बूत के रूप में श्रेणीकृत किया है जिसके साथ उसका पर्याप्त प्रचालन कार्य निष्पादन, अनुकूल व्यवसाय प्रोफाइल और उचित उद्यम जोखिम प्रबंधन को प्रतिबिंबित करता है.
  • ए.एम. बेस्ट कंपनी के अनुसार जीआइसी री के तुलन पत्र की स्थिति वास्तविक जोखिम-समायोजित पूंजीकरण को प्रतिबिंबित करती है जो अन्य सार्वभौम पुनर्बीमा बाज़ार की तुलना में मर्यादित अंडरराइटिंग वृद्धि का समर्थन करती है. जीआइसी री देश का मुख्य पुनर्बीमाकर्ता है और पुनर्बीमा बाज़ार का महत्वपूर्ण हिस्सा धारक है. इसके अतिरिक्त, जीआआईशी री ने भारत के बाहर बृहद व्यवसाय करने के साथ भौगोलिक रूप से विविध देशों में अंडरराइटिंग पोर्टफोलिओ बनाए रखा है.
  • इस साइट में दोहराई गई बेस्ट की दरनिर्धारण रिपोर्ट ए.एम. बेस्ट कंपनी से लाइसेंस के अंतर्गत दर्शाई गई है और यह दरनिर्धारण इकाई उत्पादों या सेवाओं के पृष्ठांकन को स्पष्ट रूप से या अप्रत्यक्ष रूप से संस्थापित नहीम करती है. बेस्ट की दर-निर्धारण रिपोर्ट ए.एम. बेस्ट कंपनी का कॉपीराइट है और ए.एम. बेस्ट कंपनी की लिखित सहमत के बिना दोहराई या अंतरित नहीं की जा सकती. इस वेबसाइट के विज़िटर्स अपने स्वयं के प्रयोग हेतु यहां पर प्रदर्शित दर निर्धारण रिपोर्ट की एकल प्रति की प्रिंट लेने के लिए प्राधिकृत हैं. अन्य कारण हेतु प्रिंटिंग, कॉपिंग या संवितरण पूर्ण रूप से निषिद्ध है.
  • बेस्ट का निर्धारण निरंतर रूप से समीक्षाधीन है और परिवर्तन तथा पुष्टिकरण के अधीन है. वर्तमान दरनिर्धारण की पुष्टि हेतु http://www.ambest.com/home/default.aspx को संदर्भित करें.

ए.एम. बेस्ट प्रेस विज्ञप्ति
प्रमाणपत्र देखें

सीएआरई (केयर) द्वारा भारतीय साधारण बीमा निगम (जीआइसी री) की दावा भुगतान क्षमता के दर निर्धारण की पुन:पुष्टि (29 मार्च, 2018)

  • केयर ने भारतीय साधारण बीमा निगम (जीआइसी री) को दावा भुगतान क्षमता के लिए एएए (इन) रेटिंग की पुन: पुष्टि की.
  • भारतीय साधारण के दर निर्धारण के महत्वपूर्ण कारक, भारत सरकार (जीओआइ) में अधिकतम स्वामित्व, जीआइसी री का एकमात्र राष्ट्रीय पुनर्बीमाकर्ता के रूप में नीतिपरक महत्व, अच्छी शोधन क्षमता की स्थिति और सुकर लिक्विडिटी प्रोफाइल, हैं.
  • जीआइसी री के क्रेडिट प्रोफाइल ने मजबूत उद्गम द्वारा स्ट्रेन्थ प्राप्त की है. (31 दिसंबर, 2017 को भारत सरकार ने जीआइसी री में 85.78% साम्य स्टेक धारित किए हैं.) और भारतीय बाज़ार में एकमात्र भारतीय पुनर्बीमा कर्ता के रूप में इसका नीतिपरक महत्व है.
  • जीआइसी री की पूंजीकरण स्थिति निरंतर रूप से मज़बूत रही है जो कि 31 मार्च, 2017 को उसकी सॉल्वेंसी मार्जिन 2.40 बार अधिक दर्ज़ की गई है.
  • जीआइसी री की वित्तीय स्थिति अच्छी है तथा नकद परिस्थितियों के साथ तकनीकी रिज़र्व 31 मार्च, 2016 के 2.67 बार अधिक की तुलना में 31 मार्च, 2017 को लगभग 2.64 हो गए हैं.
  • जीआइसी री का पुनर्बीमा में बहुआयामी व्यवसाय प्रोफ़ाइल है और अनिवार्य अर्पण के अतिरिक्त भारत में सार्वजनिक और निजी क्षेत्र की साधारण बीमा कंपनियों से लगभग सभी श्रेणियों का गैर जीवन पुनर्बीमा व्यवसाय स्वीकार करती है. जीआइसी री विदेशी पुनर्बीमा कंपनियों से भी पुनर्बीमा स्वीकार करती है और यह जीआइसी री के कुल सकल लिखित प्रीमियम (जीपीडबल्यू) के लगभग 30% (वित्तीय वर्ष 2017) है. यह देशी व्यवसाय पर अत्यधिक निर्भरता को कम करता है और जोखिम बुक में भौगोलिक विस्तार की वृद्धि करता है.
  • कंपनी के अन्य विविध में सेगमेंट्स के हानि अनुपात में काफी मात्रा में कमी होने के कारण वित्तीय वर्ष 2016 की तुलना में वित्तीय वर्ष 2017 में कंपनी के हानि अनुपात में अनंतिम रूप से कमी आई है. समग्र रूप से, वित्तीय वर्ष 2017 में कंपनी ने 606 करोड़ रु. की अंडर राइटिंग हानि दर्ज़ की है. तथापि, कंपनी ने 4584 करोड़ रुपए की निवेश आय बुक की है जिससे वित्तीय वर्ष 2017 के लिए जीआइसी री 3128 करोड़ रुपए का पीएटी रिपोर्ट कर सके.

प्रमाणपत्र देखें
सीएआरई दरनिर्धारण प्रेस विज्ञप्ति